Sunday, July 30, 2017

Ashok pratap yadav
उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी,
जहाँ सारा शहर अपना था और तुम अजनबी…
AshokpratapYadav
Previous Post
Next Post

0 comments: